Thursday, January 21, 2016

बोलते घड़े की कहानी - Talking Pot's Story - (In Hindi)












यह कहानी है दो पानी के दो पात्र "घडे" की, एक घड़े का नाम सुखिया और दूसरे घड़े का नाम दुखिया था, दोनों घड़े एक ऋषि के आश्रम मे पानी भरने के काम आते थे, और आश्रम के ऋषि दोनों घड़ो को रोज़ साफ करते और नदी पे जा कर उसमे पानी भर के लाते, भगवान की आराधना करने वाले महात्मा ऋषि मुनि ओ के काम आने से दोनों ही घड़े काफी गर्व महेसूस करते थे, और अपना कर्तव्य यानि के पानी को अपने मे समा कर रखना, बड़े लगन से करते थे, [Read More...]

loading...

0 comments:

  © Blogger templates The Professional Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP