Friday, February 12, 2016

Fitness Tips- (In Hindi)



हर एक इन्सान के शरीर की बनावट, सेहत, प्रतीकार शक्ति, आदते, ताकत, कमजोरिया, यह सब अलग अलग होते है, अपने शरीर का खयाल रखना हर इन्सान की खुद की अहेम ज़िम्मेदारी है, आज के समय मे आवागमन के लिये साइकल, स्कूटर, मोटर कार, से लेके ट्रेन, बस, प्लैन, वगेरा संसाधन है,

काम काज करने के लिये भी शारीरक श्रम की जगह बड़ी बड़ी मशीनों ने ले ली है, और हर छोटी, मोटी बीमारी की सुरुवात मे ही आज कल लोग antibiotic दवाये(मेडिकल से दवाई) ले कर/खा कर इलाज करना पसंद करते है,


इन्सान के जीवन मे इन सब आधुनिक सुविधाओ के आने से जीतने फायदे हुवे  है उसे से काफी ज़्यादा नुकसान हुवे है, क्यू की अब पुराने जमाने की तरह मिलो तक चलना, पसीना आने तक काम करना, आयुर्वेद की देसी दवाईया इस्त्माल करना, वगेरा काफी कम देखने को मिलता है,

इस लिये आज के समय मे इन्सान को अपना शरीर चुस्त तंदूरस्त रखने के लिये क्या क्या करना चाइये इस बारे मे कुछ ज़रूरी सुजाव इस पोस्ट पर बताये गये है, आशा है आप के लिये, उपयोगी होंगे,

आँखों की सुरक्षा - Eye Care

टेलिविजन और कम्प्युटर का इस्त्माल एक या दो घंटे से ज़्यादा करे तब हर घंटे बाद पाँच मिनिट का ब्रेक ले, मुह मे पानी भर के आंखो मे साफ पानी छिड़क ने से आंखो को ठंडक मिलेगी, ककड़ी/खीरा के गोल slice काट कर आंखो पर रखने से आंखो को आराम मिलेगा, गाजर खाना आंखो के लिए काफी फायदे मंद है, सिर मे तेल लगाने और थोड़ी देर हल्की मालिश करने से भी आंखो की नसो को आराम मिलता है,

दांतों की सुरक्षा -  Teeth care  

अगर आप के दांत ठीक नहीं तो आपका हाजमा भी बिगड़ सकता है, इस लिये दाँतो को दिन मे सुबह और रात को सोते वक्त कम से कम दो बार साफ करना जरूरी है, ज़्यादा गरम और ज़्यादा ठंडी चिजे खाने से और चिपचिपी चिजे खाने से दांत जल्दी खराब हो सकते है, इस लिए खान पान मे ध्यान दे, और हर साल डेन्टिस्ट से दांत ज़रूर चेक करवाये,

चमड़ी की सुरक्षा  - Skin Care  

हमारी skin कई परतो से बनी होती है, और काफी सवेदनसिल होती है, ज़्यादा धूप के सीधे संपर्क से चमड़ी बेरंग और काली रूखी हो जाती है, इस लिये हो सके तो कड़ी धूप के सीधे संपर्क से बचना चाहिये, और अगर धूप मे जाना ही पड़े तो शरीर पूरा cover हो सके ऐसे कपड़े पहेनने चाइये, skin की सुंदरता और तंदूरसती के लिए दिन मे खूब सारा पानी पीना चाहिये, sun's cream का इसतमाल करने से skin को धूप मे आराम मिलेगा, नहाने मे चने का आटा और दूध की मलाई का लेप इस्त्माल करने से skin मुलायम और गोरी हो जाती है,

हाजमा - Digest care

अगर आप को बार बार कब्ज़, गेस, वायु, बद हाजमी, लूस मोशन, जैसी पेट से जुड़ी तकलीफ़े रहेती है, तो शायद आप का खान पान गलत हो सकता है, और कुछ गलत आदते सुधार कर यह तकलीफ सारी दूर की जा सकती है,

खाना हमेशा चबा चबा कर निगलना चाहिये, निवाले हमेशा छोटे छोटे खाये, रात को चावल, बेंगन, भिंडी, तरबूज, ककड़ी, मुली, जैसे वायु करने वाले व्यंजन नहीं लेने चाहिये, नीली सब्जी, बीन्स, दूध, और फल का सेवन करना सेहत के लिये फायदे मंद होता है,

खाने के तुरंत बाद ज़्यादा पानी एक साथ नहीं पीना चाइये, खाना हमेशा दिन मे चार पाँच बार मे थोड़ा थोड़ा कर के खाना चाइये, जिस से हाज़मे की प्रक्रिया को एक साथ बल न पड़े, खाने के साथ छाछ पीनी चाहिये,

ज़्यादा तीखा,तला हुआ खाना , और खट्टा या ठंडा गरम खाना खाने से परहेज करना चाहिये, सुबह उठ कर और रात को सोने के पहेले जीभ की काई ठीक से साफ करनी चाहिये, अजवायन, एलायची, मुखवास वगेरा खाने से मुह की दुर्गंध की समस्या नहीं होती,


Fatness – मोटापा / चर्बी का इलाज  

स्वास्थ्य के साथ चर्बी का सीधा नाता है, अगर आप जितना खाना खा रहे है, उतना हजम नहीं हो रहा तो बाकी का खाना या तो UN-digested वेस्ट के रूप मे बाहर निकलेगा, या फिर चर्बी के रूप मे शरीर मे जमा होता रहेगा, और ज़रूरत से ज़्यादा चर्बी के जमा होने से दिल की बीमारी, घुटनो का दर्द, डायबिटिस, हाइ बीपी, लो बीपी, जैसी बहोत गंभीर बीमारिया, होने का खतरा बढ़ जाता है,

इस लिये रोज़ कसरत करे, योगा करे, अछि मात्रा मे पानी पिये, और दिन भर physically एक्टिव / प्रवृतिमय  रहे, ताकि खाना ठीक से पच सके, हल्की हल्की सुबह की धूप का सेवन करे, नींबू और सहेध का सेवन करे, बाहर का खाना फास्ट फूड और कोल्ड ड्रिंक का सेवन न करे,

खाने पीने मे शुगर और नमक कम इसतमाल करे, चाय कॉफी का सेवन कम करे, तंबाकू और स्मोकिंग, और drinking के जहर से दूर रहे,


More - 

"कोन कितना जियेगा ये तो कोय भी नहीं जानता, पर जितनी भी जिंदगी है वो सेहतमंद/स्वस्थ  हो तो जीवन स्वर्ग जेसा लगता है, वरना ज़िंदगी बोज और सजा बन जाती है" इस लिये हर एक इन्सान को अपनी सेहत का खयाल रखना चाहिये और अच्छी जिंदगी बितानी चाहिये, ताकि इन्सान खुद और उसका  परिवार सुखी रह सके"

loading...

0 comments:

  © Blogger templates The Professional Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP