SRAM ओर DRAM क्या है RAM की सम्पूर्ण जानकारी

दोस्तों RAM का पूरा नाम Random access memory होता है। यह device किसी Mobile फोन या किसी Computer का ज़रूरी हिस्सा होता है। किसी device में जितना अधिक क्षमता का RAM होगा उसकी कार्यक्षमता उनती ही अधिक Fast Speed वाली होगी। कम क्षमता की RAM होने पर यंत्र (डिवाइस) Hang हो जाता है या slow चलता है। रेम को Direct Access Memory के नाम से भी जाना जाता है। आज के समय में मोबाइल में RAM 1GB से ले कर 6 या 8 GB तब आता है। किसी Computer में इस से काफी अधिक क्षमता का RAM आता है।

Storage Memory की तुलना में एक RAM में बहुत कम जगह होती है। RAM को Volatile Memory भी बुलाया जाता है। बिजली करंट रुक जाने पर RAM पूरी तरह से रिक्त (खाली) हो जाती है। RAM दो प्रकार के होते हैं। एक तो Static RAM और दूसरा Dynamic RAM।

SRAM DRAM

SRAM और DRAM दोनों का difference क्या है   

Static RAM – स्टेटिक रेम

  • बिजली का करंट आता रहेगा तब तक इसमें डाटा मौजूद रहेगा।
  • यह SRAM के नाम से प्रसिद्ध है।
  • बार बार रिफ्रेश करने की आवश्यकता नहीं होती है।
  • बाकी अन्य मेमोरी यंत्र से महेंगी है।
  • यह रेम कैच मेमोरी जल्दी से प्रदर्शित करता है।
  • इस रेम को बाकी मेमोरी से अधिक करंट चाहिए।

Dynamic RAM – डायनेमिक रेम 

  • यह DRAM के नाम से प्रसिद्ध है।
  • थोड़ी थोड़ी देर बाद रिफ्रेश करना आवश्यक होता है।
  • SRSM के मुक़ाबले DRAM काफी धीमा होता है।
  • कीमत में यह काफी सस्ती मिलती है।
  • इस प्रकार की रेम में जगह (मेमोरी) काफी कम उपलब्ध होती है।
  • अन्य मेमोरी के मुक़ाबले कम बिजली खाती है।
  • यह लंबे समय तक खराब नहीं होती है।

विशेष – फोन पर Video Game खेलने या बड़ी साइज़ के Software चलाने हों तो अधिक रेम वाला Mobile और Computer ही लेना सही होता है। ध्यान रखें की जब आप अपने फोन पर एक साथ चार या पाँच Application साथ में खोलते हैं तब आप का RAM उन सब को संभाल पाने में असमर्थ हो सकता है और Mobile का Process धीमा पड़ सकता है। RAM जितना Free रहेगा आप का Phone और कम्प्यूटर उतना ही अच्छा काम दे पाएगा।

Tags:

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *