आश्चर्य : इन देशों में महिलाएं Underwear नहीं पहन सकती हैं।

मुझे पता है की पोस्ट के टाइटल को पढ़ कर ज़्यादातर लोगों को यही लगेगा की यह न्यूज़ एक मज़ाक है। लेकिन में आप को बता दूँ की, हमारी दुनियाँ में आज भी ऐसे देश हैं जो महिलाओं को लेस वाली चड्डी यानि अंडरवियर (Underwear) पहनने की आज़ादी नहीं देते हैं। इस कानून की वजह से उन देश की महिलाओं को बिना चड्डी (Underwear) ही घूमना पड़ता है। अगर कोई महिला चोरी छुपे अंडरवियर (Underwear) पहन ले और वह किसी कारण पकड़ी जाए तो उसे वहाँ के कानून के मुताबिक सज़ा भी मिलती है। अब सवाल आता है की, इन देशों में इस तरह का अजीब कानून क्यूँ बनाया गया है। तो इस के पीछे किसी शाप से जुड़ी मान्यता बताई जाती है। जिस कारण वहाँ के पूर्वजों नें यह कानून अमल में लाया है।

हमारी दुनियाँ में कजाक्सितान, रूस और बेलारूस ऐसे देश हैं जहां महिलाओं के अंडरवियर (Underwear) पहनने पर पाबंदी है। इस विचित्र कानून के खिलाफ वहाँ की महिलाओं नें कई बार आवाज़ उठाई है। पर वहाँ की सरकार टस से मस होने को तैयार नहीं है। यह कानून वर्ष 2011 से अस्तित्त्व में आया है। वर्ष 2011 के बाद इन देशों में लेस वाली चड्डियाँ (Underwear) बेचने पर और खरीदने पर पूरी पाबंदी है।

Underwear

विश्व के कई देशों में औरतों को चहरा दिखाने, छोटे कपड़े पहनने और यहाँ तक गाड़ी चलाने पर भी पाबंदी है। लेकिन अंडरवियर डालने पर रोक की बात सुन कर तो मेरी हसी रोके नहीं रुक रही। वाकय में यह तो, नारी जाती पर खुला अन्याय है। इस प्रकार के ऊटपटाँग कानून बनाने वाले लोगों को यह बात समझनी चाहिए की, महिलाओं को महीने के उन दिनों में काफ़ी पीड़ा से गुज़रना पड़ता है। कई बार तबीयत खराब होने पर कपड़े खराब हो सकते हैं।

Underwear

ऐसे कानून के बारे में सुन कर दूसरे देश मज़ाक उड़ा सकते हैं। तो आने वाले समय में इस तरह का अजीब कानून बदलेगा और कजाक्सितान, रूस और बेलारूस की महिलाओं को छोटी चड्डीयां (Underwear) पहनने का सौभाग्य प्राप्त होगा येही हमारी कामना। पोस्ट अच्छी लगे तो फॉलो करो, लाइक मारो यार। धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *