QR Code क्या होता है – QR Code कैसे Scan किया जाता है

वर्तमान समय में हम कई जगहों पर क्यू आर कोड छपा हुआ देखते हैं। क्या आप नें कभी सोचा है की यह क्या प्राणली है। और किस तरह काम आती है। बड़े बड़े होडिंग्स पर और डिपार्टमेन्ट स्टोर में बोर्ड पर छपे इन क्यू आर कोड्स के जरिये ग्राहकों को डिस्काउंट दे कर सेल बढ़ाया जाता है। कई जगह सड़क पर और बड़े बड़े ब्रांड के advertisement पर भी QR code छपे मिल जाते हैं। कई property owner भी अपने घर को बेचने का video QR code द्वारा प्रदर्शित करते हैं। अब सवाल यह उत्पन्न होता है की लोग इस प्रणाली का उपयोग क्यूँ करते हैं और इसका क्या लाभ होता है। तो आइये जानते हैं की QR code की उपियोगिता क्या है।

qr

QR Code क्या है?

सब से पहले तो हम आप को बता दें की क्यू आर कोड  का पूरा नाम क्विक रिसपोन्स कोड (Quick Response code) होता है। यह आकार में चौकोर तरह का दिखता है। एक QR Code के तीन कोनों में छोटे छोटे तीन चौकोर बॉक्स बने होते हैं। जिनमें दर्ज की हुई जानकारी संचित होती है। जो किसी QR Code reader द्वारा स्कैन की जा सकती हैं।

QR Code स्कैन कैसे करें

अब मान लीजिये की आप को किसी क्यू आर कोड को Scan करना है। तो आप सब से पहले Google Play Store जा कर QR Code reader एप install कर सकते हैं। यदा रखिए की आप QR Reader किसी भी स्मार्ट फोन पर बड़ी आसानी से install कर सकते हैं। उसके बाद अपने फोन को उस छपे हुए क्यू आर कोड के सामने रख कर एप शुरू करें और स्कैन का बटन प्रैस करें। ऐसा करने पर आप का फोन उस एप और कैमरा के माध्यम से उस क्यू आर कोड में छुपी लिंक या information को स्कैन कर के उस code के destination तक आप को पहुंचा देगा और आप आसानी से उस website या info को ईस्त्माल कर के offer का लाभ ले सकते हैं।

QR Code

QR Code का लाभ क्या है?

किसी भी product या विज्ञापन में छपे क्यू आर कोड को स्कैन करने से आप बड़ी आसानी से उस product की website पर जा सकते हैं। और उसका लाभ ले सकते हैं। Internet पर QR Code तैयार करने की website भी उपलब्ध होती हैं। जहां आप खुद के लिए क्यू आर कोड बना कर उसका उपयोग कर सकते हैं। आप अलग अलग Information को QR Code में Save कर के उसका उपयोग कर सकते हैं।

QR Code के नुकसान क्या हैं?

किसी भी QR Code में Security का बहुत बड़ा issue होता है। इस प्रकार के Code के साथ आसानी से छेड़खानी संभव है। हैकर इन QR Codes का डाटा बदल कर इनमें वाइरस या अन्य नुकसानकारक URL links डाल सकते हैं।

विशेषयह एक अध्यतन तकनीक है। जिसे उपयोग कर के हम डिस्काउंट कोड तैयार कर सकते हैं, अपने शोशल नेटवर्क का लिंक डाल सकते हैं, किसी एप या प्रॉडक्ट को प्रोमोट कर सकते हैं, इसे हम एक बिज़नस कार्ड के तौर पर भी उपयोग में ले सकते हैं। और इसे अलग अलग साइट से लिंक कर के visitor ट्राफिक भी बढ़ा सकते हैं। यह प्रणाली barcode से कई गुना ज़्यादा उपयोगी है। बस आप के पास एक स्मार्ट फोन होना चाहिए जिसमें एक सामान्य कैमेरा लगा होना चाहिए।

Tags:

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *